जामुन ( Black Plum ) खाने के फायदे और नुकसान- हिंदी में

0
6

जामुन काले रंग का एक छोटा फल है, जो गर्मी के मौसम में आता है। इसे अंग्रेजी में Black Plum कहते हैं। इसके फल, पत्तियों तथा बीजों का प्रयोग आयुर्वेद में चिकित्सा के रूप में किया जाता है। जामुन में उपस्थित ग्लूकोज़, फ्रक्टोज, विटामिन A, विटामिन C, राइबोफ्लेविन, निकोटिन एसिड, फोलिक एसिड, सोडियम और पोटेशियम के अलावा इसमें कैल्शियम, फॉस्फोरस, जिंक तथा आयरन उपस्थित होते हैं।

जामुन के फायदे

स्वास्थ्य के लिए जामुन एक औषधी के रूप में काम करती है। इसके सेवन से हीमोग्लोबिन बढ़ता है तथा यह आँखों और त्वचा के लिए भी फायदेमंद होती है।

  1त्वचा तथा आँखों के लिए फायदेमंद

जामुन में विटामिन A तथा विटामिन C की भरपूर मात्रा उपस्थित होती है। जो आँखों और त्वचा के लिए लाभदायक है।

  2हीमोग्लोबिन बढ़ाने में उपयोगी

जामुन का नियमित सेवन करने से शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ती है। इसमें उपस्थित विटामिन C तथा आयरन शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाने में मदद करते हैं।

  3बारबार पेशाब का आना

पेशाब जाना एक नार्मल बात है लेकिन यदि कोई व्यक्ति बार – बार पेशाब जाने की समस्या से परेशान है, तो उसे जामुन की गुठली बारीक करके 4-4 ग्राम सुबह – शाम 100 ग्राम ताजे पानी के साथ दें। यही चूर्ण खूनी दस्त में भी फायदेमंद होता है।

  4– महावारी में उपयोगी

यदि किसी महिला को महावारी ज्यादा आने की समस्या है, तो उसे जामुन की हरी ताजा छाल 20 ग्राम पानी में रगड़ कर छानकर सुबह – शाम पिलाने से महावारी का खून कम आता है।

  5मुंहासों के लिए

जामुन के बीज को पीसकर इसमें गाय का दूध मिलाकर पेस्ट तैयार करलें। इस पेस्ट को रात को सोने से पहले त्वचा पर लगाएं तथा सूखने के बाद चहरे को साफ़ पानी से धो दें। ऐसा करने से मुँहासों की समस्या दूर हो जाएगी।

  6– दाद के रोग में

 दाद होने पर जामुन के रस में थोड़ा पानी मिलाकर दाद पर लगाने से दाद जल्दी ठीक होते हैं।

  7– ल्यूकोरिया में

जामुन की ताजा हरी छाल को छाया में सुखाकर बारीक करके 4-4 ग्राम सुबह – शाम बकरी या गाय के दूध के साथ खाने से औरतों के प्रदर रोग में फायदा मिलता है।

  8– यौनशक्ति को बढ़ाने में

1 चम्मच जामुन के रस में 1 चम्मच शहद और 1 चम्मच आंवले का रस मिलाकर सुबह खाने से यौनशक्ति बढ़ती है।

  9दाँतों के लिए

जामुन की हरी छाल को बारीक करके मंजन की तरह मलने से पायरिया तथा दाँतों की सभी समस्याएं दूर होती हैं।

जामुन खाने के नुकसान

  • अधिक मात्रा में किसी भी फल का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है।
  • दूध पीने के 1 घंटे पहले तथा बाद तक जामुन का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • शरीर में सूजन तथा किसी भी प्रकार की एलर्जी होने पर जामुन का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • सुबह खाली पेट जामुन का सेवन करने से कब्ज की परेशानी हो सकती है।
  • जामुन का अधिक मात्रा में सेवन करना डायबिटीज के रोगियों के लिए खतरनाक हो सकता है।
  • अधिक मात्रा में जामुन का सेवन करने से खाँसी, दर्द तथा बुखार की समस्या हो सकती है।
Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here