छोटी माता (Chicken Pox) के इलाज के लिए Top 5 होम्योपैथिक दवाएं

0
12

छोटी माता (Chicken Pox) एक संक्रामक रोग है। यह एक प्रकार के वायरस से उत्पन्न होता है। इसके दाने बड़ी माता (Small Pox) के दानों से आकार में छोटे होते हैं, लेकिन बड़ी चेचक से इस रोग का कोई सम्बन्ध नहीं है। बड़ी माता के दाने कुछ दिनों बाद बीच से फट जाते हैं, जबकि छोटी माता के दाने न तो बीच में से फटते हैं और न ही उन पर से छिछड़े ही उतरते हैं। छोटी माता के दाने अपनी जगह पर ही सूख जाते हैं।

बड़ी माता एक भयंकर बीमारी है। जिसमें रोगी की मृत्यु होने की संभावना रहती है। परन्तु छोटी माता में इतना भय नहीं रहता है। बड़ी माता के दाने पूरे शरीर में एक साथ निकलते हैं, जबकि छोटी माता के दाने थोड़े – थोड़े करके कई दिनों तक निकलते रहते हैं।

छोटी माता (Chicken Pox) की होम्योपैथिक दवाएं

इस रोग का समय पर इलाज कराने से रोगी की जान बच सकती है। छोटी माता (चिकनपॉक्स) को होम्योपैथिक दवाओं के द्वारा सही किया जा सकता है। अधिक परेशानी होने पर डॉक्टरी परामर्श अवश्य लें।

  • Aconite 30

यदि रोगी को तेज बुखार हो तो रोग के प्रारम्भ में ही इस औषधी को दें। इस औषधी की 10-10 बून्द 1/4 कप पानी में दिन में तीन बार दें।

  • Rhus Tox 30

यह औषधी चिकनपॉक्स की एक मात्र श्रेष्ठ औषधी है। इसे रोग के प्रारम्भ से अंत तक दिया जा सकता है। अत्यधिक खुजली होने पर यह औषधी विशेष लाभकर है। इस औषधी की 10-10 बून्द 1/4 कप पानी में दिन में तीन बार लें।

  • Antim Tart 6

रस – टॉक्स से लाभ न मिलने पर इस औषधी की 10-10 बून्द 1/4 कप पानी में दिन में तीन बार दें।

  • Gelesimium 30

शरीर में दर्द, कँपकपी तथा सिर में भारीपन होने पर इस औषधी की 10-10 बून्द 1/4 कप पानी में दिन में तीन बार दें।

  • Bryonia 30

यदि चिकनपॉक्स के दाने पूरी तरह से न निकले हों, तो इस औषधी की 10-10 बून्द 1/4 कप पानी में दिन में तीन बार दें।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here