पथरी (Stone) के कारण, लक्षण एवं घरेलू और होम्योपैथिक इलाज

0
37

पथरी को स्टोन (Stone) भी कहते हैं। यह गुर्दे (Kidney) में, पित्त की थैली (Gall Bladder) में और मूत्रवाहक नली (Urinary Tract Tube) में अधिक होती है। पथरी होने पर लोग अधिकतर अंग्रेजी दबाओं और ऑपरेशन का सहारा अधिक लेते हैं। परन्तु पथरी एक ऐसा रोग है जिसे घरेलू इलाज द्वारा आसानी से निकाला जा सकता है। पथरी छोटी और बड़ी दो तरह की होती है। पथरी होने पर व्यक्ति को असहनीय दर्द होता है। यह दर्द शरीर में कहीं भी हो सकता है।

पथरी होने के कारण (Cause of Stone)

पथरी होने का मुख्य कारण सही से खान -पान का न होना है। जिसके कारण शरीर का पेशाब गाढा होने लगता है और इसके कण शरीर में जमा होने लगते हैं। और बडे होकर पथरी का रूप ले लेते हैं। पथरी का रोग टमाटर, बैंगन, पालक, अमरुद, आदि बीज बाली चीजों को अधिक खाने से होता है।

पथरी के लक्षण (Symptoms of Stone)

  1. पथरी होने पर पीठ के निचले हिस्से में अथवा पेट में असहनीय दर्द  होता है।
  2. पथरी का दर्द पीठ की तरफ से पेट की तरफ आता है और बहुत तेज़ दर्द होता है।
  3. पथरी होने पर पेशाब रुक -रुक कर आता है और दर्द भी असहनीय होता है।
  4. पथरी होने पर उल्टी, दस्त, बेचैनी, और थकान बनी रहती है।

पथरी हटाने के घरेलू उपाय (Home Remedies for Stone)

पथरी को घरेलू इलाज द्वारा यूरिन के रास्ते से आसानी से निकाला जा सकता है इसलिए इसके होने पर ऑपरेशन कराने की जल्दी न करें।

१. पानी

पथरी होने पर पानी अधिक से अधिक मात्रा में पीना चाहिए। क्यूंकि पानी अधिक पीने से छोटी स्टोन आसानी से निकल जाती है।

२. जीरा (Cumin)

पथरी होने पर जीरा और मिश्री को समान मात्रा में पीस कर चूर्ण बना लें और पानी के साथ एक चम्मच चूर्ण का सेवन करें इससे पथरी आसानी से निकल जाती है।

३. करेला (Bitter Gourd)

पथरी के रोग में करेला बहुत ही लाभकारी है करेले में मेगनीसियम, और फॉस्फोरस नमक तत्व होते हैं जो पथरी बनने से रोकते है।

४. प्याज (Onion)

किडनी की पथरी के लिए प्याज बहुत ही गुणकारी है रोज सुबह खाली पेट प्याज का रस पीने से किडनी की पथरी आसानी से निकल जाती है।

५. अजवाइन (Celery)

अजवाइन  का सेवन करने से किडनी की पथरी को आसानी से निकाला जा सकता है अजवाइन का सेवन मसाले के  रूप में घरों में किया जाता है।

६. तुलसी के पत्ते (Basil Leaves)

तुलसी के पत्तों का रस निकाल कर पीने से या तुलसी के पत्तों को सुबह खाली पेट चबाकर खाने से भी स्टोन को निकाला  जा सकता है।

७. नीबू का रस (Lemon Juice)

नीबूं का रस किडनी की पथरी और किडनी के दर्द की लिए फायदेमंद है।नीबू एक साइट्रिक फल है जिसमें एसिटिक एसिड होता है; जो की किडनी की पथरी को तोड़ने और घुलाने में प्रभावशाली होता है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here