क्या है थायरॉइड का होम्योपैथिक इलाज?

0
39

थायरॉइड ग्रंथि गले की ग्रंथी है, जिससे थय्रोक्सिन हार्मोन बनता है। जब यह हार्मोन्स कम हो जाते हैं तब शरीर का मेटाबॉलिज़्म काफी तेज होने लगता है और शरीर की ऊर्जा भी जल्दी ख़त्म हो जाती है। लेकिन जब यह हार्मोन्स अधिक हो जाएँ तो मेटाबोलिज्म काफी कम हो जाता है, जिस कारण शरीर में ऊर्जा कम बनती है और थकान महसूस होने लगती है। थायरॉइड की परेशानी महिलाओं में अधिक होती है। थायरॉइड शरीर में कोलेस्ट्रॉल, दिल, हड्डियों, और मांसपेशियों पर भी असर डालती है। ऐलोपैथिक पद्धति में Hypothyroidism का उपचार Levothyroxin नामक औषधी तथा Hyperthyroidism का एंटीथाय ड्रग जैसे, radioactive आयोडीन आंशिक थायरॉइड को निकालकर (Partial Thyroidectomy) उपचार करते हैं। ऐलोपैथी का यह उपचार जीवनपर्यन्त चलता है,और इसका कोई सफलतापूर्वक परिणाम भी नहीं आता है। लेकिन होम्योपैथिक ऐसे रोगों का सफलता पूर्वक उपचार करती है, और इसका परिणाम भी सफलता पूर्वक होता है।

  • Calceria Carb 30

उदर में वसा की वृद्धि, रोगी मोटा, माँसल, गोर रंग का होता है तथा सहज ही पसीना आ जाता है। यदि रोगी को हथेली एवं तलवों पर पसीना आता है तो इस औषधी की 20-20 बून्द 1/4 कप पानी में दिन में तीन बार (सुबह, दोपहर, शाम) दें।

  • Calceria Flour 30

यदि रोगी की प्रदाहित ग्रंथि पत्थर जैसी कड़ी हो तो इस औषधी की 20 – 20 बून्द दिन में तीन बार दें।

  • Cictus Can 30

ग्रंथि का प्रदाह, सूजन तथा मवाद उत्पन्न होने पर इस औषधी की २० -२० बून्द दिन में तीन बार रोगी को दें।

  • Ferrum Phos 6x

यदि रोगी को मासिक स्त्राव बहुत अधिक या बहुत बार हो तथा थायरॉइड प्रदाह चमकदार, तमतमाया चेहरा होने पर यह औषधी लाभकारी है। इस औषधी की 2- 2 गोली दिन में तीन बार दें।

  • Iodium 30

ग्रंथि का प्रदाह तथा वृद्धि होने पर यह औषधी अति उत्तम लाभकारी होती है। इस औषधी की 20 -20 बून्द 1/4 कप पानी में दिन में तीन बार दें।

  • Calium Iod 3X

यह रेडिएशन के मामले में रोगी थायरॉइड ग्रंथि की सुरक्षा करती है। यदि रोगी को प्रदाहित कठोर ग्रंथि के साथ-साथ सूजन भी हो तो इस औषधी की 2-2 गोली दिन में तीन बार दें।

  • Petrolium 200

थायरॉइड रोग की प्रवृति होने पर इस औषधी की दिन में सिर्फ एक ही खुराक 1/4 कप पानी में रोगी को दें।

  • Sepia 30

अल्प थायरॉइड हार्मोन के साथ -साथ निम्न रक्तचाप तथा थकावट की अनुभूति होने पर रोगी को इस औषधी की 20 -20 बून्द 1/4 कप पानी में दिन में तीन बार दें।

  • Thyrodium 3x

थायरॉइड के रोग में इस औषधी का आश्चर्यजनक प्रभाव है। इस रोग में रोगी को शक्कर खाने की इच्छा होती है, तथा अत्यधिक मोटापे एवं भार में वृद्धि की ओर प्रवृत होता है। इस परिस्थिती में रोगी को इस औषधी की २ गोली दिन में एक बार दें।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here