आंवला (Gooseberry or Amla): क्या है इसे खाने के फायदे एवं औषधीय गुण

0
39

आंवले (Gooseberries or Amla) में मुख्य रूप से एंटीऑक्सीडेंट व् रोग प्रतिरोधक क्षमता पायी जाती है। आंवले में विटामिन “A”, विटामिन सी, मेग्नीशियम, आयरन, कार्बोहायड्रेट तथा फाइबर होते हैं। इसके अलावा इसमें गैलिक एसिड,टैनिक एसिड, शर्करा, एल्ब्यूमिन आदि तत्व भी पाए जाते हैं। आमतौर पर एक स्वस्थ व्यक्ति 1-2 मध्यम आकार के आँवले खा सकता है। आंवले का सेवन कई तरीके से किया जा सकता है। इसे कच्चा खाया जा सकता है, चूर्ण के रूप में लिया जा सकता है, या फिर मुरब्बे के रूप में भी इसे खा सकते हैं।

आंवला खाने के फायदे एवं औषधीय गुण

आंवले में बहुत से लाभदायक पोषक तत्व एवं खनिज पदार्थ होते हैं। आँवला विटामिन “C” का मुख्य श्रोत होता है। आंवले का सेवन जूस, चूर्ण, और मुरब्बे के रूप में किया जाता है।

  • घने, लम्बे,एवं मजबूत बाल

आँवला न केवल बालों को बढ़ाता है, बल्कि उनको झड़ने से भी रोकता है। आंवला बालों के लिए बहुत लाभकारी है। आँवला में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट बालों के पिग्मेंटेशन को सम्बृद्ध करते हैं। आंवले का पाउडर बालों में लगाने से बालों को पोषण मिलता है। यह बालों को जड़ से मजबूत बनाता है। तथा उन्हें सफ़ेद होने से रोकता है।

  • दिमाग के लिए

आंवले का सेवन करने से व्यक्ति का दिमाग तेज होता है। सुबह खाली पेट 1 कच्चे आंवले का सेवन करने से दिमाग को पोषण मिलता है। रक्त में लौह की मात्रा मस्तिष्क को ऑक्सीजन प्रदान करती है, साथ ही स्मृति को भी बढ़ाती है।

  • आँखों की रोशनी के लिए

आंवले के रस में शहद मिलाकर सेवन करने से दृष्टि में सुधार होता है। आँवले के सेवन से निकट दृष्टिदोष तथा मोतियाबिंद में भी सुधार होता है।  इसके सेवन से आँखों में जलन तथा खुजली में भी राहत मिलती है।

  • दाँतों के लिए

आंवला एक शक्तिशाली एंटीमाइक्रोवायल एजेंट है। इसलिए यह वैक्टीरिया से होने वाले रोगों से लड़ने में मदद करता है। आँवला वैक्टीरिया के विकास को रोकता है।  इसके सेवन से दाँतों में कीड़ा,पायरिया, कैविटी जैसी समस्याएं पैदा नहीं होती हैं।

  • हृदय के लिए

आंवले का सेवन हृदय की बहुत सी बीमारियों में फायदेमंद होता है। इसके सेवन से मधुमेह, रक्तचाप, हृदयरोग, तथा दिल के दौरे जैसी गंभीर बीमारियों से बचा जा सकता है।

  • पाचन शक्ति के लिए

यह एक मजबूत पाचन उत्तेजक और रेचक (Laxativ) है।यह न केवल पाचन शक्ति में सुधार करता है बल्कि वृहदान्त (Colon) की सफाई में भी मदद करता है। आँवले का सेवन कब्ज, डायरिया, और बबासीर जैसी बीमारियों में बहुत लाभकारी है।

कब्ज होने पर 1 चम्मच आंवला पाउडर को गुनगुने पानी के साथ लें, तथा बबासीर होने पर आँवला पाउडर को पानी में डालकर अच्छे से उबाल लें। तथा ठंडा होने पर इसे छानकर चीनी मिलाकर सेवन करने से आराम मिलता है।

  • हड्डियों के लिए

आंवले में कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है। इसके सेवन से जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है। तथा हड्डियां मजबूत होती हैं।

Facebook Comments