कैंसर के लक्षण, कारण और इससे बचने के घरेलू उपाय- Type of Cancer, What are the Cause, Symptoms Ayurvedic Treatment

0
65

आज के समय में हर व्यक्ति किसी न किसी रोग से ग्रसित है। सायद हे कोई ऐसा व्यक्ति होगा जिसके शरीर में कोई रोग न हो। कभी-कभी हम छोटी-छोटी परेशानियों को नजर अंदाज कर देते हैं और वही एक दिन बड़ी घातक बीमारी बन जाती है। इन्ही गंभीर बीमारियों में से एक है कैंसर की बीमारी। यह एक ऐसी बीमारी है जिसका पहले से पता नहीं चलता है। लोगों को पता ही नहीं चलता की वे किस बीमारी के शिकार हैं। इसके शुरुआती लक्षणों में वायरल बुखार, सर्दी -जुखाम, बदनदर्द आदि सामान्य परेशानियां बनी रहती हैं। जिसेलोग देख कर भी अनदेखा कर देते है और डॉक्टरी परामर्श भी लेना जरूरी नही समझते  हैं। यही छोटी -छोटी परेशानी घातक होकर कैंसर का रूप ले लेती हैं। आईये जाने क्या हैं कैंसर के लक्षण हुए इससे कैसे बचा जा सकता हैं।

कैंसर के  लक्षण- Symptoms of Cancer

कैंसर जैसी बीमारी की शुरुआत बहुत ही छोटी -छोटी परेशानिओं से होती है जैसी लगातार बुखार का बने रहना ,जुखाम होना और मुंह में छालों का होना।

१. अचानक वजन घटना (Unexplained Weight Loss)

यदि बिना डाइटिंग या बिना किसी अन्य कोशिश को किए  ही आपका वजन घट रहा है तो ये चिंता का विषय है। ऐसा होने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह लें क्युकी ऐसा होना किसी गंभीर बीमारी की ओर संकेत करता है।

२. वायरल बुखार (Viral Fever)

यदि अधिक समय तक बुखार बना रहता है तो ये  चिंता का विषय है ये रक्त कैंसर का कारण भी बन सकता है।इसलिए लम्बे समय तक बुखार रहने पर इलाज जरूर लें।

३. थकान (Fatigue)

अक्सर लोगों को ज्यादा काम करने से भी थकान हो जाती है।परन्तु बिना काम के थकान का बने रहना एक बड़ी बीमारी का संकेत है।

४. चर्म रोग (Skin Disease)

यदि शरीर के  किसी अंग पर लाल रंग के  चकते है और सर के  बाल भी नही बढ़ रहे है तो यह स्किन कैंसर भी हो सकता है।

प्रमुख कैंसर और उनके लक्षण –

  • स्तन कैंसर (Breast Cancer)

ज्यादातर कैंसर शिशु को स्तनपान न कराने की बजह से होता है ओवेरी से उत्सर्जित हार्मोन्स भी इसको पैदा करते हैं।

  • गर्भाशय का कैंसर (Uterine Cancer)

ये कैंसर महिलाओ में होता है। ज्यादातर प्रसव के  दौरान किसी भी तरह का घाव भी गर्भाशय कैंसर का कारण बनता है। मीनोपॉज के बाद रक्त स्त्राव होना ,और दुर्गन्ध आना पैरों व् कमर में दर्द रहना इसके प्रमुख कारण हैं।

  • रक्त कैंसर (Blood Cancer)

इस कैंसर में मुख से खून  निकलता है जोड़ों व् हड्डियों में दर्द रहता है।इसमें डायरिया का होना ,लगातार बुखार का बने रहना, साँस लेने में दिक्कत होना इसके प्रमुख लक्षण हैं।

  • मुख का कैंसर (Mouth Cancer)

तम्बाकू का सेवन मुख और गले के  कैंसर का मुख्य कारण है।मुख के  भीतर घाव का होना, गांठ का होना ,या सफ़ेद दाग का होना ,बदबू आना ,बोलने व निगलने में दिक्कतहोना इसके प्रमुख लक्षण हैं।

  • लंग कैंसर (Lung Cancer)

इसमें हर समय खांसी का बने रहना खांसी की साथ खून का निकलना आवाज में बदलाब ,साँस लेने में दिक्कत होना इसके मुख्य लक्षण हैं।

  • आमाशय का कैंसर (Stomach Cancer)

इसमें पेट में दर्द रहना, भूख कम लगना, खून की उल्टी होना तथा मल त्यागते वक़्त केवल खून निकलना इसके मुख्य लक्षण हैं।

  • सर्वाइकल कैंसर (Cervical Cancer)

  सर्वाइकल  कैंसर में बजन कम होना तथा अनीमिया का होना इसके प्रमुख लक्षण हैं।

  • ब्रेन कैंसर (Brain Cancer)

इसमें मस्तिष्क में गांठ होती है जिसमें चक्कर आना, भूलना, साँस लेने में दिक्कत होना, उल्टी आना आदि इसके प्रमुख लक्षण हैं।

  • प्रोस्टेट कैंसर (Prostate Cancer)

प्रोस्टेट कैंसर पुरुषो के गुप्तांग (पौरुष ग्रंथि) में होता है। पौरुष ग्रंथि (Prostate Gland) पुरुषो के अंदर वीर्य (Seminal Fluid) बनाने का काम करती है मूत्र या वीर्य से खून आना और स्खलन के वक़्त दर्द (Painful Ejaculation) होना आदि इसके मुख्या कारण हैं।

कैंसर के कारण (Causes of Cancer)

  1. सुपारी, तम्बाकू, बीड़ी, सिगरेट आदि धूम्रपान जैसी चीजों का सेवन करने से कैंसर का खतरा बढ़ता है।
  2. शराब और सिगरेट का एक साथ सेवन करने से यह खतरा और भी बढ़ जाता है।
  3. नमक ज्यादा खाना या रिफाइंड आयल  के सेवन से यह खतरा और भी ज्यादा बढ़ जाता है।
  4. बच्चों को स्तन पान न कराने से स्तन कैंसर का खतरा और भी बढ़ता है।
  5. गर्भ निरोधक गोलियों का अधिक समय तक सेवन करने से भी कैंसर हो सकता  है।

कैंसर से बचने के घरेलू उपाय (Home Remedies of Cancer Prevention)

  1. गौमूत्र और हल्दी में  करकेमिन नामक एक केमिकल पाया जाता है। जो कैंसर के सेल्स  को खत्मकरता है १/२ चम्मच हल्दी और १ कप देशी गाय का मूत्र मिलाकर गर्म करलें और रोगी को दिन में २-३ बार पिलायें।ऐसा कमसे -कम ३-४ महीने तक करें।
  2. ऑर्गेनिक फ़ूड का स्तेमाल करें क्यूंकि इसमें केमिकल नहीं होता है। फूलगोभी (Cauliflower), ब्रोकली (Broccoli) और हरी सब्जियों (Green Vegetables) का सेवन करनेसे कैंसर के सेल्स (Cancer Cells) ख़त्म हो जाते हैं।
  3. ग्रीन टीपीने से कैंसर के रोग में आराम मिलता है।
  4. सोयाबीन खाने से स्तन कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर (Prostate Cancer) की  संभावना कम होती है।
  5. अनार का जूस स्तन कैंसर में लाभदायक होता है।
  6. संतरा, नींबू, मौसमी में से किसी एक का जूस हर रोज एक गिलास पीने से मुँह का कैंसर नहीं होता है।
Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here