खर्राटे क्यों आते हैं और उन्हें रोकने की घरेलू विधि क्या है? Snoring Cause & Home Remedies in Hindi

0
68

खर्राटों को मेडिकल भाषा में Sleep Apnea  भी कहा जाता है। यह एक ऐसे बीमारी है जो मनुष्य को शर्मिंदगी महसूस करती है। जब व्यक्ती गहरी नींद में सो जाता है तब यह परेशानी  शुरू होती है।जैसा की हम सभी जानते है की  रात के समय में ही व्यक्ति गहरी नींद में सोता है।लेकिन यह जरूरी भी है क्यूंकि अगर रात को गहरी नींद में नहीं सो पाते तो सुबह सारा दिन सुस्ती बनी रहती है।लेकिन इन खर्राटों की बजह से दूसरे लोगों को जो परेशानी होती है वह चिंता का विषय है।खर्राटों की वजह से साथ में सोने वाले लोगों की नींद भी ख़राब होती है। दुनिया भर में बहुत से लोग इस बीमारी से ग्रसित हैं।लगभग 45% पुरुष और 25% महिलाएं इस समस्या से पीड़ित हैं। खर्राटे लेने वाले लोगों को कभी -कभी साँस लेने में भी परेशानी होती है। इसलिए ये समस्या खर्राटे लेने बाले व्यक्ति और साथ में सोने बाले व्यक्ति दोनों के लिए ही बड़ी समस्या है।

खर्राटे आने के कारण

यदि किसी व्यक्ति को नाक, गले या उच्च रक्तचाप की परेशानी होती है तो इन परिस्थितियों में खर्राटे आने की सम्भावना बढ़ जाती है।

मोटापा

जब व्यक्ति  का बजन बढ़ जाता है तब यह परेशानी ज्यादा होती है।

उच्च रक्तचाप

उच्च रक्तचाप के कारण भी यह परेशानी होना संभव है।

नशा

यदि कोई व्यक्ति नशा करता है तो उस व्यक्ति में यह बीमारी होने की सम्भावना बनी रहती है ।

नाक में परेशानी

यदि किसी व्यक्ति की नाक में परेशानी है तो वह मुँह से साँस लेगा और इस परिस्थिति में भी खर्राटे आ सकते हैं।

– वृद्धावस्था

वृद्धावस्था एक ऐसीअवस्था  है जब शरीर में कोई न कोई परेशानी लगी रहती है इस अवस्था में खर्राटे का आना एक आम बात है।

खर्राटे के घरेलू उपाय

खर्राटों का आना एक आम परेशानी है इसे घरेलू इलाज के द्वारा सही  किया जा सकता है।

  • इलायची से

इलायची के प्रयोग से खर्राटों में बहुत ही आराम मिलता है इलायची स्वसन तंत्र को खोलने का काम करती है।इससे साँस लेने की प्रक्रिया और सरल होती है।रात को सोने से पहले 2 -3  इलायची को गुनगुने पानी के साथ पीने से खर्राटों में आराम मिलता है यह प्रक्रिया सोने से लगभग 30  -40  मिनट पहले करनी  चाहिए।

  • हल्दी से

हल्दी एंटी- सेप्टिक और एंटी – बायोटिक गुणों से भरपूर होती है।यह नाक का रास्ता साफ़ करती है और साँस लेने में आसानी करती है सोने से पहले रात को एक गिलास दूध में एक चम्मच हल्दी पाउडर मिलाकर पीने से खर्राटों में आराम मिलता है।

  • 1/4  नीबू, २ गाजर, १ गाँठ अदरक, २ सेब को एक साथ मिक्सर में पीस कर जूस निकाल लें इसे रात को सोने से पहले पीने से खर्राटों में आराम मिलता है।

Get Top Rated Stop Snoring Devices from Amazon

Facebook Comments